DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....




उदासी भरी हिंदी शायरी – ना खुशी खरीद पाता हूं और

ना खुशी खरीद पाता हूं और ना गम बेच पाता हूं

फिर भी ना जाने क्यूं हर रोज बाजार जाता हूं।

Leave a Reply