DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....




Category: Jism Shayari

Jism Hindi Shayari – मेरे जिस्म से उसकी खुशबु

मेरे जिस्म से उसकी खुशबु आज भी आती है,
मैंने फुरसत में कभी सीने से लगाया था उसे

Updated: June 6, 2017 — 11:42 am

Jism Hindi Shayari – ख़ाक थी और जिस्म ओ

ख़ाक थी और जिस्म ओ जाँ कहते रहे
चंद ईंटों को मकाँ कहते रहे

Updated: May 31, 2017 — 1:32 pm

Jism Hindi Shayari – जिस्म को जिस्म की ही

जिस्म को जिस्म की ही तलाश है
इसे इश्क न कहो ये महज प्यास है

Updated: May 31, 2017 — 1:32 pm

Jism Hindi Shayari – तमाम जिस्म को आँखें बना

तमाम जिस्म को आँखें बना के राह तको
तमाम खेल मोहब्बत में इंतिज़ार का है

Updated: May 31, 2017 — 1:32 pm

Jism Hindi Shayari – जला है जिस्म जहाँ दिल

जला है जिस्म जहाँ दिल भी जल गया होगा
कुरेदते हो जो अब राख ज़ुस्तज़ु क्या है।।

Updated: May 31, 2017 — 1:32 pm

Jism Hindi Shayari – जिस्म पर जो निसान है

जिस्म पर जो निसान है जनाब,
वो तो सारे बचपन के है,
बाद के तो सारे दिल पर लगे है

Updated: April 18, 2017 — 10:33 am

Jism Hindi Shayari – कुछ इस तरह से बसे

कुछ इस तरह से बसे हो तुम मेरे अहसासों में
जैसे धड़कन दिल में, मछली पानी में, रूह जिस्म में…

Updated: April 18, 2017 — 10:33 am

Jism Hindi Shayari – जिस्म की दरारों से रूह

जिस्म की दरारों से रूह नज़र आने लगी है…
बहुत अंदर तक तोड़ गया है इश्क़ तुम्हारा।।

Updated: April 10, 2017 — 10:54 am

Jism Hindi Shayari – तमन्ना तेरे जिस्म की होती

तमन्ना तेरे जिस्म की होती
तो छीन लेते दुनिया से
इश्क तेरी रूह से है इसलिए
खुदा से मांगते हैं तुझे

Updated: January 27, 2017 — 4:21 pm

Jism Hindi Shayari – रात को वो

रात को वो थकन से लड़ता है
जिस्म दिन भर जेहन से लड़ता है

Updated: January 27, 2017 — 4:21 pm
Page 1 of 212







DilSeDilTak.co.in © 2015