DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....

Category: Manzil Shayari

Manzil Hindi Shayari – रास्तों पर निगाह रखने वाले

रास्तों पर निगाह रखने वाले
भला मंज़िल कहाँ देख पाते हैं
मंज़िलों तक तो वही पहुँचते हैं
जो रास्तों को नज़रअंदाज़ कर जाते हैं


Advertisements

Updated: May 4, 2017 — 11:02 am

Manzil Hindi Shayari – मैं अकेला ही चला था

Advertisements

मैं अकेला ही चला था “जानिब-ए-मंज़िल”
” मगर”
लोग साथ आते गये और “कारवाँ” बनता गया.

Updated: May 4, 2017 — 11:02 am

Manzil Hindi Shayari – ये राहें ले ही जाएँगी

Advertisements

ये राहें ले ही जाएँगी मंज़िल तक
हौसला रख
कभी सुना है कि अंधेरों ने
सवेरा ना होने दिया ?

Updated: March 21, 2017 — 4:51 pm

Manzil Hindi Shayari – मंज़िल हमारी हमारे करीब से

Advertisements

मंज़िल हमारी, हमारे करीब से गुज़र गयी
हम दूसरों को रास्ता दिखाने में रह गए

Updated: February 2, 2017 — 4:06 pm

Manzil Hindi Shayari – डर मुझे भी लगा फांसला

loading...

डर मुझे भी लगा फांसला देख कर!
पर मैं बढ़ता गया रास्ता देख कर!
खुद ब खुद मेरे नज़दीक आती गई!
मेरी मंज़िल मेरा हौंसला देख कर।

Updated: January 27, 2017 — 4:21 pm
loading...
DilSeDilTak.co.in © 2015