DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....

Category: Manzil Shayari

Manzil Hindi Shayari – मंज़िल का पता है न

मंज़िल का पता है न किसी राहगुज़र का
बस एक थकन है कि जो हासिल है सफ़र का



Loading...
Updated: May 25, 2017 — 8:56 pm

Manzil Hindi Shayari – रास्तों पर निगाह रखने वाले

रास्तों पर निगाह रखने वाले
भला मंज़िल कहाँ देख पाते हैं
मंज़िलों तक तो वही पहुँचते हैं
जो रास्तों को नज़रअंदाज़ कर जाते हैं



Loading...
Updated: May 4, 2017 — 11:02 am

Manzil Hindi Shayari – एक ना एक दिन हासिल

एक ना एक दिन हासिल कर ही लूंगा मंज़िल,
ठोकरे ज़हर तो नहीं , जो खा कर मर जाऊंगा….

Updated: April 10, 2017 — 10:54 am
Page 1 of 212
Loading...
DilSeDilTak.co.in © 2015