Raat Hindi Shayari – सर्दियों की काली ठंडी रात

सर्दियों की काली ठंडी रात में छत पर,
तेरे मेरे ख्वाब की बात हो..
चाँद की सफ़ेद चादर ओढ़े तेरी खामोशियाँ सुने…..

Raat Hindi Shayari – दिन ख़्वाब को पलकों पे

दिन ख़्वाब को पलकों पे सजाने में गुज़र जाय
रात आये तो नींदों को मनाने में गुज़र जाय ।।

Raat Hindi Shayari – दिन हुआ है तो रात

दिन हुआ है तो रात भी होगी,
हो मत उदास कभी बात भी होगी,
इतने प्यार से दोस्ती की है,
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी.

1 2