DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....

Winter Shayari

Winter Hindi Shayari – ना जाने किस रैन बसेरे

ना जाने किस रैन बसेरे की तलाश है… इस चाँद को…!
रात भर बिना कम्बल ,भटकता रहता है इन सर्द रातों में…..!!


Advertisements
Loading...

Updated: January 27, 2017 — 4:22 pm

Winter Hindi Shayari – कुछ इस तरह से साथ

Advertisements

कुछ इस तरह से साथ मेरे हमसफ़र चले
साये से जैसे जिस्म कोई बेख़बर चले

ख़ामोशियों का सर्द अँधेरा है इस कदर
यूँ अजनबी से यार न जाने किधर चले

Updated: January 27, 2017 — 4:21 pm

Winter Hindi Shayari – आज सर्द की ऐसी लहर

Advertisements

आज सर्द की ऐसी लहर चली
मानो जैसे किसी हमदर्द के दर्द की कहर चली

Updated: January 27, 2017 — 4:21 pm
loading...
Loading...
DilSeDilTak.co.in © 2015