DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....







Hindi Font 2 Lines Shayari – कल तक उड़ती थी जो

कल तक उड़ती थी जो मुँह तक आज पैरों से लिपट गई
चंद बूँदे क्या बरसी बरसात की धूल की फ़ितरत ही बदल गई..

Leave a Reply







DilSeDilTak.co.in © 2015