DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....







Manzil Hindi Shayari – ये भी क्या मंज़र है

ये भी क्या मंज़र है बढ़ते हैं न रुकते हैं क़दम
तक रहा हूँ दूर से मंज़िल को मैं मंज़िल मुझे

Leave a Reply







DilSeDilTak.co.in © 2015