DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....







Shayari 2 Lines Facebook – मेरे मुन्सिफ को मगर

मेरे मुन्सिफ को मगर, ये भी तो मंज़ूर न था!
दिल ने इन्साफ ही माँगा था, कुछ ईनाम नहीं!







DilSeDilTak.co.in © 2015