DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....







Shayari Two Line New – गिन लेती है दिन बगैर

गिन लेती है दिन बगैर मेरे गुजारें हैं कितने
भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी..!!







DilSeDilTak.co.in © 2015