DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....






Tag: Anmol Vachan Hindi Mein

प्रेरक शिक्षाप्रद हिंदी अनमोल वचन सुविचार – ज्ञानवर्धक प्रेरणादायक विचार : धन दौलत से ज्यादा – अच्छा व्यवहार काम आता है।

संसार में दो प्रकार के वृक्ष हैं……

प्रथम – अपना फल अपने आप दे देते हैं। जैसे – आम, अमरूद, केला इत्यादि।

द्वितीय – अपना फल छिपाकर रखते हैं। जैसे – आलू, अदरक, प्याज इत्यादि।

जो अपना फल अपने आप दे देते हैं उन वृक्षों को सभी खाद-पानी देकर सुरक्षित रखते हैं किन्तु जो अपना फल छिपाकर रखते हैं वे जड़ से खोद दिये जाते हैं। ठीक इसी प्रकार जो अपनी विद्या, धन, शक्ति स्वयं ही समाज सेवा में, समाज के उत्थान में लगा देते हैं, उनका सभी ध्यान रखते हैं अर्थात मान-सम्मान देते हैं। वहीं दूसरी ओर जो अपनी विद्या, धन, शक्ति स्वार्थवश छिपाकर रखते हैं, किसी की सहायता से मुख मोडे रखते हैं वे जड़ सहित खोद लिये जाते हैं, अर्थात समय रहते ही भुला दिये जाते हैं।🙏

शिक्षा : धन दौलत से ज्यादा – अच्छा व्यवहार काम आता है।🙏

(प्रेरक शिक्षाप्रद हिंदी अनमोल वचन सुविचार – ज्ञानवर्धक प्रेरणादायक विचार – प्रेरक हिंदी शायरी )

Updated: September 29, 2016 — 3:52 pm

Best Inspirational Shayari – Prerak Hindi Suvichar

नाम चाहा न कभी भूल के शोहरत माँगी 
हमने हर हाल में ख़ुश रहने की आदत माँगी 
हो न हिम्मत तो है बेकार यह दौलत ताक़त 
हमने भगवान से माँगी है तो हिम्मत माँगी

Updated: February 3, 2015 — 10:04 pm

Inspirational Shayari – Kabhi Mil Sako To In Panchhiyon Ki Tarah

कभी मिल सको तो इन पंछियो की तरह बेवजह मिलना ए दोस्त
वजह से मिलने वाले तो न जाने हर रोज़ कितने मिलते है ..!!

Updated: December 31, 2014 — 6:55 pm

Hindi Anmol Vachan – Har School Mein Likha Hota Hai

हर् स्कूल में लिखा होता है,असूल तोडना मना है ..!!
हर बाग में लिखा होता है ,फूल तोडना मना है ..!!
हर खेल मैं लिखा होता है ,रूल तोडना मना है ..!!
.
.
काश ..!!
.
.
मोहब्बत और दोस्ती मैं भी लिखा होता की ..,
किसी का दिल तोडना मना है ..!

Updated: December 31, 2014 — 6:55 pm

हिंदी अनमोल वचन – न मेरा एक होगा, न तेरा लाख होगा

न मेरा एक होगा, न तेरा लाख होगा,
तारिफ तेरी, न मेरा मजाक होगा,

गुरुर न कर शाह-ए-शरीर का,
मेरा भी खाक होगा, तेरा भी खाक होगा

Updated: December 31, 2014 — 6:55 pm
DilSeDilTak.co.in © 2015