DilSeDilTak.co.in

Shayari, SMS, Quotes, Jokes And More....







Zakhm Hindi Shayari – हम तो सोचते थे कि

हम तो सोचते थे कि लफ्ज़ ही चोट करते हैं..
मगर कुछ खामोशियों के ज़ख्म तो और भी गहरे निकले

Leave a Reply







DilSeDilTak.co.in © 2015