हिन्दी शेर ओ शायरी – ख्वाब बनकर तेरी आँखों में सामना है


ख्वाब बनकर तेरी आँखों में सामना है
दवा बनकर तेरे हर दर्द को मिटाना है,
हासिल है मुझे ज़माने भर की खुशियां,
मेरी हर खशी को बस तुझ पर लूटना है

हिन्दी शेर ओ शायरी- हक़ीक़त हो तुम कैसे तुझे सपना कहूँ

हक़ीक़त हो तुम कैसे तुझे सपना कहूँ
तेरे हर दर्द को में अपना कहूँ
सब कुछ क़ुर्बान है मेरे यार पर
कौन है तेरे सिवा जिसे में अपना कहूँ…

हिन्दी शेर ओ शायरी – मोहब्बत से वो देखते हैं सभी को

मोहब्बत से वो देखते हैं सभी को
बस हम पर कभी ये इनायत नहीं होती
मैं तो शीशा हु टूटना मेरी फितरत है
इसलिए मुझे पत्थरो से कोई शिकायत नहीं होती