Raat Hindi Shayari – जूनून – ए – इश्क़

जूनून – ए – इश्क़ था, तो कट जाती थी रात ख़्यालो में
सज़ा – ए – इश्क़ आई, तो हर लम्हां सदियों सा लगने लगा …


Raat Hindi Shayari – आँखों को सब की नींद

आँखों को सब की नींद भी दी ख़्वाब भी दिए
हम को शुमार करती रही दुश्मनों में रात ..


Raat Hindi Shayari – तेरे वादे को कभी झूट

तेरे वादे को कभी झूट नहीं समझूँगा
कल की रात भी दरवाज़ा खुला रखूँगा


1 2