Nahi Fursat Yakin Mano – Yaadein Shayari


नहीं फुर्सत यकीं मानो हमें कुछ और करने की,
तेरी यादें, तेरी बातें बहुत मसरूफ़ रखती हैं …..